LIVE TVMain Slideदेशमध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश के दमोह जिले में अनचाहे बच्चों की हत्या की घटना से फली सनसनी जाने क्या है मामला ?

मध्य प्रदेश के दमोह जिले में अनचाहे बच्चों की हत्या के मामले सामने आ रहे हैं. पिछले कुछ ही दिनों में दो बिन ब्याही नाबालिग लड़कियों ने अनचाहे गर्भ से पैदा हुई संतानों को मौत के घाट उतार दिया.

Loading...

पुलिस ने दोनों मामलों में केस दर्ज कर नाबालिग लड़कियों को महिला सुधार गृह भेज दिया है. एक घटना दमोह देहात थाने की है और दूसरी घटना तारादेही थाना की है.

जानकारी के मुताबिक, 27 नवंबर को देहात पुलिस को सूचना मिली कि कचरे के ढेर पर लावारिस नवजात बच्ची पड़ी है. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और बच्ची को जिला अस्पताल भर्ती कराया.

कोशिशों के बावजूद उसे बचाया नहीं जा सका और 28 नवंबर को इलाज के दौरान बच्ची ने दम तोड़ दिया. पुलिस ने इसके बाद मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी. पुलिस ने आरोपी लड़की को ढूंढन के लिए गांव के लोगों से पूछताछ की. शुरुआत में तो पुलिस को सफलता नहीं मिली, लेकिन कुछ दिनों बाद किसी ने उन्हें बता दिया कि किस घर की लड़की हॉस्पिटल में भर्ती थी.

इस आधार पर पुलिस ने नाबालिग लड़की से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया. नाबालिग लड़की ने बताया कि गर्भ होने के बाद उसने बच्चे को जन्म दिया था. लेकिन, घर पर बच्चे के आने के बाद तनाव हो गया.

घर में दिनभर लड़ाई-झगड़े होने लगे. इस वजह से उसने बच्चे को कचरे के ढेर पर यह सोचकर फेंक दिया कि उसे कोई न कोई जानवर खा लेगा. पुलिस ने जांच कर लड़की को नारी सुधार गृह भेज दिया. दूसरी ओर, पुलिस ने उस युवक के खिलाफ भी मामला दर्ज किया, जिसकी वजह से ये संतान हुई.

इसी तरह की घटना 25 नवंबर को भी घटी. इसमें एक नाबालिग मां ने अपने 40 दिन के बच्चे की रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर दी थी. उसके बाद वह बच्चे को लेकर खुद ही अस्पताल चली गई.

बच्चे की जांच के बाद डॉक्टरों को शक हुआ तो उन्होंने पुलिस बुलाई और फिर पोस्टमॉर्टम किया. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चल गया कि बच्चे की मौत की वजह गला घोंटना है. पुलिस ने नाबालिग लड़की से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने भी अपना गुनाह कबूल कर लिया.

उसके बाद पुलिस ने नाबालिग को नारी सुधार गृह भेज दिया गया. दरअसल, 15 साल की ये नाबालिग लड़की रेप के बाद प्रेग्नेंट हो गई थी. 17 साल के नाबालिग लड़के ने उसका रेप किया था. दोनों तारादेही के रहने वाले हैं और दोनों के बीच कुछ सालों तक प्रेम संबंध भी थे.

इसी दौरान लड़के ने लड़की के साथ दुष्कर्म किया. शुरुआत में तो मामला दबा रहा, लेकिन जब लड़की गर्भवती हुई और उसमें शारीरिक बदलाव हुए तो मामला खुल गया. परिजनों ने आरोपी के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज करवाया है.

पुलिस अधीक्षक डीआर तेनिवार ने कहा कि इस तरह के दो मामले बीते 15 दिनों में सामने आए हैं. 2 नाबालिक मांओं ने दो बच्चों की हत्या कर दी. एक नाबालिग लड़की को कार्रवाई के बाद नारी बाल सुधार गृह भेजा जा चुका है. दूसरी लड़की पर कानूनी कार्रवाई चल रही है.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV