Main Slideउत्तराखंडदेश

उत्तराखंड: तिहरे हत्याकांड में पुलिस के हाथ लगे कई अहम सुराग

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ स्थित सनसनीखेज तिहरे हत्याकांड में पुलिस को महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे हैं। पुलिस ने आशंक जताई है कि हत्यारे नेपाली मूल के हो सकते हैं और सभी के नेपाल फरार होने की भी संभावना है। वहीं दूसरी ओर विदेशी सरजमीं होने के कारण पुलिस को हत्यारों तक पहुंचने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। पिथौरागढ़ के जाजरदेवल थाने के अंतर्गत मड़ खरायत गांव में शुक्रवार को 3 नेपालियों की सनसनीखेज हत्या कर दी गई थी। इस वारदात में हत्यारों ने तीनों पीड़ितों के गुप्तांग भी काट दिए थे और फरार हो गए थे।

Loading...

पुलिस को इस घटना की जानकारी शनिवार को मिली। इस घटना के प्रकाश में आने के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी। इसके बाद पुलिस तुरंत हरकत में आ गई और हत्यारों को पकड़ने के लिए कई टीमें बना दी गई। वहीं इस हत्याकांड में पुलिस को काफी अहम सुराग हाथ लगे हैं। उन्होंने बताया कि यह हत्याकांड अवैध संबंधों के चलते हुआ है।

पुलिस ने आशंका व्यक्त की है कि हत्यारे भी नेपाली मूल के ही हो सकते हैं। हत्याकांड के बाद सभी फरार हैं। आशंका लगाई जा रही है कि हत्या के बाद सभी नेपाल फरार हो गए। हत्यारों को पकड़ने के लिए पुलिस की कुछ टीमें नेपाल भेजी गई हैं लेकिन विदेशी सरजमीं होने के चलते हत्यारों तक पहुंचने में दिक्कत पेश आ रही है।

हत्यारों के ठिकानों की तस्दीक नहीं हो पा रही है। पिथौरागढ़ के पुलिस अधीक्षक एचसी राजगुरू ने भी मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि जांच में पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे हैं। उन्होंने बताया कि हत्यारे मृतकों के जानने वाले थे। उन्होंने माना कि पुलिस को हत्यारों तक पहुंचने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। बता दें कि पिथौरागढ़ जिले के मड़ खरायत गांव में शुक्रवार को नेपाल के कैलाली एवं बैतड़ी जिलों के रहने वाले काशी बोरा, हरीश बोरा और उसके भाई की हत्या कर दी गई थी। जिस जगह हत्या की गई वह झोपड़ी गांव से हटकर काफी सुनसान जगह में मौजूद है। माना जा रहा है कि हत्या में कई लोग शामिल थे। तीनों के शव 2 अलग-अलग कमरों से बरामद किए गए थे।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV