Main Slideउत्तर प्रदेशबड़ी खबरमध्य प्रदेश

साईं बाबा के जन्मस्थान को लेकर विवाद…

शिवसेना नेता संजय राउत ने बेलगाम जाने से कथित तौर पर रोक लगाने के लिए भाजपा के नेतृत्व वाली कर्नाटक सरकार की आलोचना की उन्होंने पूछा कि यदि पाकिस्तानी और रोहिंग्या भारत आ सकते हैं, तो हम बेलगाम क्यों नहीं जा सकते? यह गलत राउत ने कहा कि बेलगाम को लेकर कुछ विवाद है। इसका मतलब यह नहीं है कि एक-दूसरे पर प्रतिबंध लगा दिया जाए। शिवसेना नेता ने शुक्रवार को कहा था कि उनके वहां जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है वही राउत ने आगे कहा कि बेलगाम में एक सांस्कृतिक और साहित्यिक आयोजन होना है।

Loading...

मैं लोगों से बात करने के लिए वहां जाऊंगा। यदि कोई प्रतिबंध लगाया गया है, तो रहने दीजिए। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को महाराष्ट्र के मंत्री राजेंद्र पाटिल येदरावकर को कर्नाटक के बेलगावी जिले में एक कार्यक्रम में बोलने से रोक दिया गया था।शिरडी साईं ट्रस्ट के लोग एवं साईं बाबा में आस्था रखने वाले लोग साईं बाबा के जीवन पर लिखी गई एकमात्र पुस्तक साईं सच्चरित्र का उल्लेख करते हुए कहते हैं कि इस पुस्तक में भी साईं जन्मस्थान का कोई स्पष्ट उल्लेख नहीं मिलता। तो उनके जन्मस्थान के रूप में नया केंद्र स्थापित करने की जरूरत क्यों पड़ रही है।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने परभणी जनपद के पाथरी गांव को साईं बाबा का जन्मस्थान मानते हुए उसके विकास के लिए 100 करोड़ रुपए देने की घोषणा की है। यह घोषणा शिरडीवासियों को रास नहीं आ रही है। उनका तर्क है कि साईं बाबा ने जब खुद कभी यह स्पष्ट ही नहीं किया कि उनका जन्मस्थान कहां है, तो पाथरी को आस्था के दूसरे केंद्र के रूप में विकसित करने की जरूरत ही क्या है?

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV