Main Slideदेश

सांसद में हर्षवर्धन ने राहुल की निंदा ‘युवा मारेंगे डंडे’ ,आगबबूला हुए कांग्रेस, मचा हंगामा

राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर दिए गए आपत्तिजनक बयान पर आज संसद में जोरदार हंगामा हुआ। केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सदन में ये मुद्दा उठाते हुए राहुल गांधी की निंदा की जिसपर सदन में हंगामा मच गया। कांग्रेस के सांसद उठे और विरोध जताने लगे। इस पर सत्तापक्ष के सांसद भी उठे और कांग्रेस सांसदों का विरोध करने लगे।

Loading...

इस पर कांग्रेस के एक सदस्य हंगामा करते हुए सत्तापक्ष की अग्रिम पंक्ति तक पहुंच गये और विवाद बढ़ता देख लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सदन की बैठक दोपहर एक बजे तक के लिए स्थगित कर दी. प्रश्नकाल के दौरान बिरला ने राहुल गांधी को चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना से संबंधित उनका पूरक प्रश्न पूछने के लिए कहा. हर्षवर्धन ने कहा कि राहुल गांधी के प्रश्न का उत्तर देने से पहले मैं प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ उनके एक बयान का उल्लेख करना चाहूंगा और उसकी निंदा करना चाहूंगा जिसमें उन्होंने कहा था कि छह महीने बाद देश के युवा प्रधानमंत्री को डंडे मारेंगे. इसी दौरान कांग्रेस के सदस्य जोरदार तरीके से विरोध दर्ज कराने लगे और पार्टी सदस्य मणिकम टैगोर सत्ता पक्ष की अग्रिम पंक्ति के पास पहुंच गए और दूसरी पंक्ति में जवाब दे रहे हर्षवर्धन के ठीक सामने पहुंचकर हाथ दिखाकर विरोध जताने लगे.

तमिलनाडु से कांग्रेस सदस्य टैगोर, हर्षवर्धन के बिल्कुल सामने पहुंच गये थे जिन्हें रोकने के लिए कई मंत्री और बीजेपी सांसद आगे आ गये. टैगोर के पीछे-पीछे केरल से कांग्रेस सदस्य हिबी इडेन भी सत्तापक्ष की ओर पहुंच गये. इस दौरान संसदीय कार्य राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल, महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी सहित कई मंत्री और भाजपा सदस्य उन्हें रोकने के लिए पहुंच गये. बीजेपी सांसद ब्रजभूषण शरण सिंह ने सबसे पहले पहुंचकर टैगोर को रोकने का प्रयास किया और वह उनसे नाराजगी में कुछ कहते भी दिखे.
इस दौरान हंगामे की स्थिति बन गयी और अध्यक्ष बिरला ने करीब 11:50 बजे सदन की बैठक दोपहर एक बजे तक के लिए स्थगित कर दी. वहीं सदन से बाहर आने के बाद बीजेपी सांसद जगदंबिका पाल ने कहा जब केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन बोल रहे थे तो कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर आवेशित होकर उनकी ओर बढ़े. यह लोकतंत्र के लिए बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है. वहीं संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि राहुल गांधी के उकसावे के बाद अब उन्होंने सोचा कि डंडे वाला रास्ता ही दिखाया जाए. डॉ. हर्षवर्धन के साथ हाथापाई की कोशिश की गई है. यह कांग्रेस की कुंठा और गुंडागर्दी की चरम सीमा को दिखाता है. गौरतलब है कि दिल्ली की एक चुनावी सभा में बुधवार को गांधी ने कहा था कि मौजूदा समय में जो हालात हैं उसे देखकर कहा जा सकता है कि छह महीने में प्रधानमंत्री को युवा डंडे मारेंगे.
Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV