Main Slideदिल्ली एनसीआर

शहीद CRPF जवान रमेश ,घायल होने के बाद भी मार गिराया था आतंकी

जम्मू-कश्मीर के लावेपोरा में हाल ही में एक भीषण मुठभेड़ के दौरान आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए देश के सपूत CRPF  कांस्टेबल रमेश रंजन ने आतंकवादी विरोधी ऑपरेशनों के लिए विशेष महारत हासिल की थी। उच्च स्तरीय प्रशिक्षण के चलते घायल होने के बावजूद भी उन्होंने एक आतंकी को मार गिराया था।

Loading...

शहीद रमेश रंजन ने वर्ष 2011 में सीआरपीएफ ज्वाइन किया था। उनकी पहली पोस्टिंग संबलपुर उड़ीसा में हुई थी उसके बाद उनकी पोस्टिंग जम्मू कश्मीर में हुई। CRPF के अफसरों ने इस जांबाज को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि ऐसे जवान किसी विशेष संपत्ति से कम नहीं हैं। ऐसे जवानों की कमी जरूर खलती है।

बता दें कि गत बुधवार को श्रीनगर से करीब 17 किलोमीटर दूर स्थित लावेपोरा इलाके में एक विशेष इनपुट के आधार पर CRPF की 73वीं बटालियन ने नाका लगाया था। इस दौरान बारामुला से श्रीनगर की ओर एक नीले रंग की स्कूटी पर सावर तीन लोग बिना हेलमेट के आते दिखे। उन्हें कांस्टेबल रमेश रंजन द्वारा तलाशी के लिए रोका गया। उसी दौरान स्कूटी पर सबसे पीछे सवार युवक ने रमेश पर गोलियां चला दी, जिसमें एक गोली उसके सर पर लगी।

इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। फिर भी बहादुरी दिखाते हुए रमेश ने प्राण त्यागने से पूर्व एक आतंकी को ढेर कर दिया। इसके बाद एक भीषण मुठभेड़ शुरू हुई जिसमें बाकी के जवान भी कूद पड़े।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV