ASAMLIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशखबर 50ट्रेंडिगदिल्ली एनसीआरदेशबड़ी खबरव्यापार

यस बैंक के ग्राहकों के लिए खुशखबरी ……

आपको बतादे इस समय दो ही चीज़ चल रही है एक तो कोरोना वायरस और दूसरा आर्थिक मंदी अब बता दे की आर्थिक संकट से जूझ रही यस बैंक के ग्राहकों को सरकार ने बड़ी राहत दी है। सरकार के हस्तक्षेप के बाद यस बैंक में पैसों की निकासी की सीमा मंगलवार से खत्म हो जाएगी और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में जो दिक्कत आ रही थी वह भी पूरी तरह से जल्द समाप्त हो जाएगी। यस बैंक के रिकंस्ट्रक्शन प्लान के लिए केंद्र सरकार ने नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। नोटिफिकेशन जारी करने के 3 दिनों के भीतर यस बैंक पर लगा मोरटोरियम खत्म हो जाएगा जैसा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को ऐलान किया था।

बैंक के एडमिनिस्ट्रेटर के तौर पर नियुक्त किए गए प्रशांत कुमार को यस बैंक का सीईओ बना दिया गया है बता दें कि शुक्रवार को केंद्र सरकार की कैबिनेट बैठक में यस बैंक के री-स्‍ट्रक्‍चर प्‍लान को मंजूरी दे दी गई है। यह जानकारी वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दी है। मीडिया ब्रीफ्रिंग के दौरान निर्मला सीतारमण ने बताया कि यस बैंक में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 49 फीसदी शेयर खरीदेगा।

उन्होंने कहा कि 26 प्रतिशत शेयर में 3 साल का लॉक इन है. यानी कि एक बार खरीदने के बाद 3 साल तक के लिए इन शेयरों को नहीं बेचा जा सकेगा वहीं निजी निवेशकों को भी आमंत्रित किया गया है। निजी निवेशकों के लिए भी 3 साल का लॉक इन पीरियड होगा। इस बीच, ICICI बैंक ने येस बैंक में 1,000 करोड़ रुपये के निवेश का ऐलान किया है।

इस तरह ICICI बैंक की येस बैंक में 5 फीसदी हिस्‍सेदारी होगी इसके साथ ही निर्मला सीतारमण ने बताया कि री-स्‍ट्रक्‍चरिंग प्‍लान का नोटिफिकेशन जल्‍द जारी कर दिया जाएगा। इसके तीन दिन के भीतर येस बैंक पर आरबीआई की पाबंदियों को हटाने की बात कही थी। बता दें कि आरबीआई ने 3 अप्रैल 2020 तक के लिए येस बैंक के खाताधारकों को 50 हजार रुपये निकालने की लिमिट तय की है।

Related Articles

Back to top button