ASAMLIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशखबर 50ट्रेंडिगदिल्ली एनसीआरदेश

CM योगी बोले हॉटस्पॉट में संदिग्ध मरीजों की खास निगरानी की जाए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को निर्देश दिया प्रदेश में सील किये गये कोरोनावायरस संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों  में संदिग्ध मरीजों पर खास निगरानी रखी जाए. योगी ने यह भी कहा कि इस तरह के व्यक्ति की जांच सुनिश्चित कर उसे पृथक वास में रखा जाए. मुख्यमंत्री के निर्देश पर मास्क पहनने की अनिवार्यता का परामर्श अब शासनादेश में बदल दिया गया है, जिससे अब प्रदेश में मास्क पहनना अनिवार्य हो गया है. अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में विशेष निगरानी का निर्देश दिया गया है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री आदेश है कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा और सहारनपुर में अति​शीघ्र जांच की सुविधा उपलब्ध कराई जाए.

संस्थागत पृथक वास में रहने वाले ऐसे लोग, जिनके 14 दिन पूरे हो गए हैं और उनकी रिपोर्ट नेगेटीव आ रही है उन्हें घर पर ही पृथक वास में भेजने का निर्देश मुख्यमंत्री ने दिया है. अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि मुख्यमंत्री के संज्ञान में यह आया है कि कुछ जिलों के बैंकों में व राशन वितरण के दौरान लोगों के बीच दूरी बनाये रखने के दिशानिर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा है. इसलिये सामाजिक मेल जोल से दूर रहने के निर्देशों का गंभीरता से पालन कराने के साथ उनके खिलाफ कार्रवाई का आदेश मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को दिया है.

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने कहा कि प्रदेश में अब तक 9041 नमूनों की जांच की गई है जिसमें से 8,250 की रिपोर्ट नेगेटिव मिली है. प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने कहा कि प्रदेश में अबतक नौ प्रयोगशालाओं में नमूनों की जांच की जा रही है. जबकि प्रयागराज, आगरा, राम मनोहर लोहिया अस्पताल, लखनऊ और बरेली के मेडिकल कॉलेज के लैब को आईसीएमआर से स्वीकृति मिल गई है.

Related Articles

Back to top button