Main Slideविदेश

किम के साथ वार्ता के असफल होने पर ट्रंप का बड़ा बयान

किम जोंग उन और डोनाल्ड ट्रंप की वार्ता के सफल असफल होने को लेकर चर्चा जारी है और इस पर लगातार प्रतिक्रिया आ रही है इस बीच ट्रंप ने कहा है कि नॉर्थ कोरिया के साथ अगर वार्ता विफल होती है तो दक्षिण कोरिया के साथ युद्धाभ्यास तुरंत शुरू कर सकते हैं. हालांकि, उन्होंने कहा- मुझे उम्मीद है कि वैसा नहीं होगा. रिपोर्ट के मुताबिक, दक्षिण कोरिया के साथ सैन्य अभ्यास रोकने के अपने फैसले का ट्रंप ने ये कहते हुए बचाव किया है.

Loading...

उन्होंने कहा कि इस तरह के युद्धाभ्यास भड़काऊ और महंगे हैं. ट्रंप ने एक के बाद एक किये ट्वीट में कहा कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के साथ शिखर वार्ता के दौरान युद्धाभ्यास रोकने का उनका विचार था. उन्होंने कहा- ‘‘युद्धाभ्यास को रोकने का अनुरोध बातचीत के दौरान मैंने किया था क्योंकि वे काफी खर्चीले हैं और नेकनीयत से चल रही वार्ता के दौरान खराब मिसाल प्रस्तुत करते हैं. ये काफी भड़काऊ भी हैं.’

सिंगापुर में हुई इस मुलाकात को लेकर उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दोनों ने सफलता का दावा किया है. किम ने ट्रंप को प्योंगयांग आने का न्योता भी दिया था. साथ ही किम ने अमेरिका की यात्रा करने पर भी सहमति जताई थी. डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन की ऐतिहासिक शिखर वार्ता की दक्षिण कोरिया ने और स्थानीय मीडिया ने ‘सदी की वार्ता’ करार दिया था. 12 जून को हुई इस ऐतिहासिक मुलाकात पर विश्वभर की नज़रे टिकी हुई थी .

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close