LIVE TVMain Slideदेशविदेश

पाकिस्तान के लाहौर में तहरीक-ए-लब्बैक समर्थकों और पुलिस के बीच हुई झड़प में तीन पुलिसकर्मी की मौत

पाकिस्तान के लाहौर में खूनी झड़प हुई है. प्रतिबंधित तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान के समर्थकों और पुलिस के बीच हुई झड़प में तीन पुलिसकर्मी की मौत हो गई और कई अन्य जख्मी हो गए.

Loading...

लाहौर के डीआईजी (ऑपरेशन) के प्रवक्ता मजहर हुसैन ने तीन पुलिसकर्मी शहीद हुए हैं. हुसैन ने कहा कि कई अन्य लोग भी घायल हो गए हैं, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

उन्होंने कहा, “प्रदर्शनकारियों ने अधिकारियों पर पेट्रोल बम भी फेंके.” उन्होंने कहा कि अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों को सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने से रोकने की कोशिश की. इस दौरान झड़प हो गई.

बता दें कि प्रतिबंधित दल तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान के अध्यक्ष साद रिजवी की रिहाई की मांग को लेकर हजारों समर्थकों ने शुक्रवार को लाहौर से इस्लामाबाद के लिए ‘लंबे मार्च’ की शुरुआत की.

रैली में शामिल लोग इस्लामाबाद जाना चााहते हैं ताकि वे रिजवी की रिहाई को लेकर पाकिस्तान सरकार पर दबाव बना सकें. पैंगबर मोहम्मद का कार्टून बनाने को लेकर फ्रांस के खिलाफ हुए प्रदर्शनों के बीच पिछले साल रिजवी को गिरफ्तार किया गया था.

सरकार ने प्रदर्शनकारियों को लाहौर से आगे बढ़ने से रोकने के लिए पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती की. साथ ही लाहौर के कई हिस्सों में मोबाइल सेवाएं निलंबित कर दीं गईं और सड़कों को बंद कर दिया गया. लाहौर में हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं.

रिजवी की पार्टी की तरफ से कहा गया कि वे शांतिपूर्ण तरीके से मार्च निकाल रहे थे और पुलिस ने अचानक आसू गैस के गोले दागे. इस बीच, इस्लामाबाद के मुख्य राजमार्ग को बड़े कंटेनर लगाकर बंद कर दिया गया

और आसपास के मार्गों को भी बंद कर दिया गया ताकि राजधानी के करीब के शहरों और गांवों से प्रदर्शनकारी प्रवेश नहीं कर पाएं. लाहौर, इस्लामाबाद से करीब 350 किलोमीटर दूर है.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV