LIVE TVMain Slideबड़ी खबर

राजसमंद में पुलिस पर हमला, गहलोत ने बुलाई बैठक, पाकिस्तानी एंगल की जांच करेगी NIA

एनआईए ने अपने हाथ में ली मामले की जांच 
दर्जी कन्हैयालाल की हत्या के मामले के तार पाकिस्तान से जुड़ते नजर आ रहे हैं। पूरे मामले की जांच एनआईए ने अपने हाथ में ली है। दोनों आरोपियों मोहम्मद रियाज और मोहम्मद गौस के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां (यूएपीए) के तहत केस दर्ज किया गया है। एजेंसी आतंकी और पाकिस्तानी एंगल भी मामले की जांच कर रही है। सीएम गहलोत ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
उदयपुर हत्याकांड को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज शाम जयपुर में सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इस बैठक में प्रदेश में सभी राजनीतिक दल के अध्यक्ष शामिल हो सकते हैं। बैठक में प्रदेश में बने हालात को लेकर चर्चा होने की बात सामने आ रही है। उधर, डीजीपी एमएल लाठर ने कहा कि कन्हैलाल की हत्या में दो लोग मुख्य आरोपी हैं। उनके अलावा हमने तीन अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया है। हत्या के आरोपी रियाज और गौस मोहम्मद उनके संपर्क में थे।

Loading...

राजसमंद में कांस्टेबल की गर्दन पर मारी तलवार 
उदयपुर से सटे राजसमंद जिले के भीम इलाके में हत्या का विरोध कर रही भीड़ ने कॉन्स्टेबल पर तलवार से हमला कर दिया गया। विरोध के दौरान एक कांस्टेबल ने एक व्यक्ति को रोकने की कोशिश की तो उसने गर्दन पर तलवार मार दी। घायल कांस्टेबल को प्रारंभिक उपचार के बाद ब्यावर रेफर कर दिया गया है। बता दें कि राजसमंद के इसी भीम इलाके से मंगलवार को दोनों हत्यारे पकड़े गए थे। कांस्टेबल संदीप चौधरी पर हमले के बाद हालात बिगड़ गए और प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले भी छोड़ने पड़े। इस दौरान लोगों की भीड़ ने पुलिस पर पथराव भी किया है। उधर, कांस्टेबल संदीप चौधरी का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

आतंकी हमला मानकर जांच जारी-राजस्थान डीजीपी

राजस्थान के डीजीपी एमएल लाठर ने कहा कि UAPA के तहत केस दर्ज किया गया है। मामले की आतंकी हमला मानकर जांच जारी है। ट्रांस बॉर्डर कनेक्शन की जांच की जाएगी। एएसआई को सस्पेंड किया गया है।

एनआईए ने केस किया दर्ज

सूत्रों के अनुसार उदयपुर हत्याकांड के सिलसिले में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज शाम सर्वदलीय बैठक बुलाई है। वहीं एनआईए ने हत्या को लेकर केस दर्ज कर लिया है।

दोनों आरोपियों की दूसरे देशों से संपर्क

सीएम गहलोत ने उदयपुर की घटना पर आज उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि प्रारम्भिक जांच में सामने आया कि घटना प्रथम दृष्टया आतंक फैलाने के उद्देश्य से की गई है। दोनों आरोपियों के दूसरे देशों में भी संपर्क होने की जानकारी सामने आई है। उदयपुर की घटना पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि यूएपीए के तहत मामला दर्ज किया गया है, आगे की जांच एनआईए करेगी। जिसमें राजस्थान एटीएस पूरा सहयोग करेगा।
Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV