दिल्ली एनसीआरप्रदेश

वर्कशॉप में आग लगने से आधा दर्जन वोल्वो बसें जलीं…

दिल्ली से सटे गाजियाबाद में बृहस्पतिवार सुबह साहिबाबाद औद्योगिक क्षेत्र-चार के वर्कशाॅप में आग लगने से छह वोल्वो बसें जलकर खाक हो गईं। बताया जा रहा है कि एसी के कंप्रेशर फटने से आग फैल गई और पड़ोस में बने किताबों का गोदाम भी आग की चपेट में आ गया। घटना में करोड़ों का नुकसान हुआ है। 10 दमकल की मदद से तीन घंटे में आग पर काबू पाया जा सका। अभी तक आग लगने की वजह का पता नहीं लग सका है। मामले में जांच शुरू कर दी गई है।

Loading...

साहिबाबाद औद्योगिक क्षेत्र चार में पासपोर्ट सेवा केंद्र के सामने वोल्वो बसों का वर्कशाॅप है। वर्कशाॅप में रात को भी लोग रहते हैं। मुख्य अग्निशमन अधिकारी सुनील कुमार सिंह ने बताया कि बृहस्पतिवार सुबह करीब तीन बजे के आसपास वर्कशाॅप में आग लग गई।

मौके पर मौजूद लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन एसी में लगे कंप्रेशर के फटने से फैल गई। एक के बाद एक दस से अधिक धमाके हुए। वहां पर मौजूद लोग अपनी जान बचाकर भाग खड़े हुए। साढ़े तीन बजे कर्मचारियों ने दमकल विभाग को सूचना दी। सूचना मिलते ही साहिबाबाद और वैशाली से पांच दमकल भेजी गईं। इसके बाद गाजियाबाद और नोएडा से भी दो दो दमकल मंगवाई गईं।

10 दमकल, तीन घंटे मेहनत के बाद आग पर पाया काबू

आग की सूचना पर मौके पर कुल 10 दमकल की गाड़ियां पहुंचीं। साथ में वैशाली और साहिबाबाद के एफएसओ सोम दत्त सोनकर व एए हुसैन, लीडिंग फायरमैन धर्मेंद्र कुमार ने अपनी टीम के साथ कड़ी मेहनत की। धमाके के साथ कंप्रेशर भी फट रहे थे। धमाकों के बीच तीन घंटे की कड़ी मेहनत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। हालांकि धमाकों के कारण सरस्वती बुक डिपो के गोदाम में भी आग लग गई। लाखों की किताबें जलकर राख हो गईं। सुरक्षा के लिहाज से दो दोपहर तक मौके पर दमकल तैनात रही।

जांच के बाद सामने आएगा सच

मुख्य अग्निशमन अधिकारी सुनील कुमार सिंह का कहना है कि आग कैसे लगी थी। इसका पता नहीं लग सका है। आशंका जताई जा रही है कि शार्ट- सर्किट या किसी के बीड़ी – सिगरेट पीकर फेंकने से आग लगी है। जांच की जा रही है, जांच के बाद ही पता चलेगा कि आग कैसे लगी थी? आग लगने से करोड़ों का नुकसान हुआ है।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close