उत्तर प्रदेश

घर में बेटी पैदा होने पर पूरा गांव मनायेगा जश्न, जन्म देने वाली मां का भी किया जाएगा सम्मान|

उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से शुरू की गई सुमंगला योजना इसके  तहत अब जिला प्रशासन ने एक अनोखा प्लान तैयार किया है। जिले के अधिकारियों का दावा है कि अब गांव में किसी के घर यदि बेटी जन्म लेगी तो उस खुशी में केवल परिवार ही नहीं पूरा गांव शामिल होगा। ग्राम पंचायत की मदद से बेटी के घर मंगल गीत गवाए जाने की व्यवस्था भी की जाएगी। इसके साथ ही गांव की पंचायत की तरफ से बिटिया को जन्म देने वाली मां का भी सार्वजनिक तौर पर सम्मान किया जाएगा।

Loading...

स्त्री व पुरुष के घटते लिंगानुपात को बढ़ाकर बराबरी पर लाने के लिए जिले के आठों ब्लॉक क्षेत्र के किसी भी ग्राम पंचायत के परिवार में बिटिया पैदा होने पर खुशी मनाई जाएगी। राजधानी के मुख्य विकास अधिकारी मनीष बंसल ने शासन स्तर पर संचालित सुमंगला योजना के तहत प्रस्तावित कार्ययोजना के क्रियान्वयन का जिम्मा उठाया है।

मां को किया जाएगा सम्मानित
बिटिया के जन्म लेने पर ग्राम प्रधान व पंचायत सचिव गांव के अन्य लोगों को साथ लेकर उस घर के दरवाजे पर मंगल गीत गाते पहुंचेंगे। इसके बाद बिटिया के जन्म पर जश्न मनाते हुए ग्राम प्रधान की तरफ से गांववालों को मिठाई बांटने के साथ ही पंचायत की तरफ से बिटिया को जन्म देने वाली मां का सम्मान कर सभी को बेटा-बेटी एक समान का संदेश दिया जाएगा।

सीडीओ मनीष बंसल ने बताया कि बिटिया के जन्म पर ग्राम पंचायत कोष से न केवल परिवार को उपहार भेंट किए जाएंगे वरन सुमंगला योजना के तहत उसके बेहतर लालन पालन व शिक्षित करने की व्यवस्था भी करायी जाएगी।

हर साल 12 परिवारों को सम्मानित किया जाएगा
सीडीओ ने बताया कि कार्ययोजना के शुरुआती दौर में हर ग्राम पंचायत में पहले साल में ऐसे 12 परिवारों को सम्मानित किया जाएगा, जिनके घर बिटिया का जन्म होगा। ग्राम पंचायत स्तर पर प्रधान व सचिव की यह जिम्मेदारी भी होगी कि बिटिया के पैदा होने पर जश्न मनाने के बाद पहले पांच साल तक बिटिया का जन्मदिन मनाया जाए।

 

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV