देशबड़ी खबर

पुणे : बाढ़ और बारिश ने छीन ली सात जिंदगियां , स्कूल- कॉलेजों की छुट्टियां घोषित

देश में भारी बारिश ने हर तरफ लोगों का जीवन मुश्किल में दाल दिया है। महाराष्ट्र के पुणे में भारी बारिश से जनजीवनपूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। पुणे में बारिश-बाढ़ से अबतक 11 लोगों की मौत हो गई है। शहरी इलाके में अबतक आठ शव बरामद किए गए हैं। खेड़ शिवापुर इलाके से तीन शव बरामद किए गए हैं। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। प्रशासन ने आज सभी स्कूल-कॉलेज बंद रखने के आदेश दिए हैं।

Loading...

वहीं, मुंबई मौसम विभाग ने कहा है कि सासवाड़ में भारी बारिश के कारण, मल्हारसागर बांध से 85000 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इससे बारामती शहर में बाढ़ आने की संभावना है। इसके लिए जिला प्रशासन को अलर्ट कर दिया गया है। राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने पुणे में और आसपास के क्षेत्रों में भारी बारिश से हुए जानमाल के नुकसान को लेकर दुख प्रकट किया। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। हम जरुरतमंदों को सभी संभव सहायता प्रदान कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि राज्य आपदा प्रबंधन अधिकारी और नियंत्रण कक्ष पुणे कलेक्टर और नगर निगम के निरंतर संपर्क में हैं। दो एनडीआरएफ की टीमें पुणे में और दो बारामती में तैनात हैं। एक और एनडीआरएफ टीम बारामती भेज दिया गया है। राज्य सरकार भी बांध से छोड़े गए पानी की बारीकी से निगरानी कर रही है।

आपको बता दें कि पुणे में सिंहगढ़ रोड के पास एक नहर में एक वाहन से एक व्यक्ति का शव बरामद किया गया है। बाढ़ बचाव कार्यों के लिए एनडीआरएफ की तीन टीमों को तैनात किया गया है। कटराज, बारामती और निगम कार्यालय के पास एक-एक टीम को भेजा गया है। भारी बारिश के कारण बुधवार रात सहकार में एक दीवार ढह गई। जिससे छह लोगों की मौत हो गई। दीवार गिरने की वजह से लगभग 150 घरों को नुकसान पहुंचा हैं। बताया गया है कि अचानक से तेज बहाव से पानी आने के कारण यह हादसा हुआ है।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV