Main Slideदेशबड़ी खबरविदेश

भारत की नीतियों से घबराये पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान

इमरान खान ने कहा कि भारत की नीतियों के चलते पाकिस्तान एक और शरणार्थी संकट का सामना कर सकता है। सूत्रों के मुताबिक, राजधानी इस्लामाबाद में दो दिवसीय शरणार्थी सम्मेलन को संबोधित करते हुए इमरान ने कहा कि भारत की अति राष्ट्रवाद की विचारधारा बिना किसी रुकावट के चलती रही, तो इससे तबाही फैल सकती है और यह क्षेत्र इसका केंद्र होगा। इमरान ने कहा कि भारत के संशोधित नागरिकता कानून पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय संज्ञान नहीं लेता है, तो यह पाकिस्तान के लिए एक और शरणार्थी संकट पैदा कर देगा। इसके चलते भारत के मुसलमान पाकिस्तान का रुख करेंगे।

Loading...

संयुक्त राष्ट्र को अपनी भूमिका निभानी चाहिए, नहीं तो यह भविष्य में एक बहुत बड़ी समस्या बन जाएगी। शरणार्थी सम्मेलन पाकिस्तान में अफगान शरणार्थियों के आने के 40 साल पूरे होने के मौके पर हो रहा है। इमरान ने यह बयान संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुतारेस की उपस्थिति में दिया। गुतारेस पाकिस्तान की यात्रा पर आए हुए हैं और उन्होंने भी इस सम्मेलन में शिरकत की है।

प्रधानमंत्री इमरान खान ने सोमवार को कहा कि उनका देश पाकिस्तान अब आतंकवादी संगठनों के लिए कोई सुरक्षित पनाहगाह नहीं है। हालांकि, उन्होंने सार्वजनिक रूप से माना कि शायद पहले ऐसा नहीं था। इमरान ने कहा कि मैं आपको बता सकता हूं कि यहां कोई सुरक्षित पनाहगाह नहीं है। अतीत में संभवत: जो भी स्थिति रही हो, लेकिन फिलहाल मैं आपको बता सकता हूं कि एक ऐसी चीज है, जो हम चाहते हैं, वह है अफगानिस्तान में शांति।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV