ASAMLIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशखबर 50ट्रेंडिगदेशमनोरंजनमहाराष्ट्र

नोरा फतेही का खुलासा एक्ट्रेस बनने से पहले कई जगह की जॉब

एक्ट्रेस नोरा फतेही ने भले ही आज अपना नाम कमा लिया हो, लेकिन उनके इस मुकाम तक पहुंचने की कहानी भी काफी संघर्षपूर्ण है। अभिनेत्री नोरा फतेही को उनके दमदार परफॉर्मेंस के वजह से खूब जाना जाता है। फिल्म ‘सत्यमेव जयते’ में ‘दिलबर’ गाने से नोरा फतेही ने न केवल जबरदस्त पहचान बनाई, बल्कि लोगों का भी खूब दिल जीता है। लेकिन, नोरा का यह सफर इतना भी आसान नहीं रहा है और उन्होंने यहां पहुंचने से भी पहले कई तरह की नौकरियां की हैं।

नोरा ने आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से कई तरह के काम किए ताकि उनका परिवार चल सके। नोरा जब भारत आई थीं तो बहुत कम पैसे लेकर आई थीं। हाल ही में नोरा ने कोमल नाहटा के चैट शो में अपने स्ट्रगल की कहानी सुनाई थी। नोरा ने बताया कि उन्होंने 16 साल की उम्र से कमाना शुरू कर दिया था और पहले पढ़ाई करती थीं और उसके बाद काम करने के लिए जाती थीं, क्योंकि उनके घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी।

नोरा ने बॉलीवुड में फिल्म रॉर: टाइगर्स ऑफ द सुंदरबंस से अपने करियर की शुरुआत की थी। लेकिन, इससे पहले उन्होंने काफी मुश्किल भरे रास्तों को पार किया था। एक्ट्रेस ने बताया, ‘मैंने सबसे पहले एक मॉल में सेल्स एसोसिएट के रूप में नौकरी की थी और उस वक्त मैं स्कूल में पढ़ती थीं। उसके बाद मैंने मैन क्लोथिंग स्टोर पर काम किया, जहां मैं सूट वगैहर बेचती थी। इसके अलावा भी मैंने कई काम किए। मैंने रेस्टोरेंट, बार और शवरमा प्लेस पर नौकरी की। मैंने टेली मार्केटिंग ऑफिस, कोल्ड कॉलिंग पीपल का काम किया और लॉटरी भी बेची।

नोरा ने बताया, इसके अलावा मैंने कमीशन पर काम किया और एक बार मैक डॉनाल्ड में भी किया किया था। मैंने सबकुछ किया है।’ इस चैट शो में नोरा फतेही ने बताया कि भारत आने के बाद उन्हें कई परेशानियों और कठिनाइयों से गुजरना पड़ा था। बातचीत के दौरान उन्होंने कहा, ‘भारत में विदेशियों का जीवन काफी कठिन होता है । हम कई चीजों से गुजरते हैं, जिनके बारे में लोग जानते भी नहीं हैं। इतना ही नहीं, वह हमारे पैसे भी ले लेते हैं। ऐसा मेरे साथ भी हुआ है, मुझे याद है अपनी पहली एजेंसी, जो मुझे कनाडा से यहां मिली थी।

उन्होंने बताया, वह अपने व्यवहार के मामले में काफी आक्रामक थे और मुझे ऐसा महसूस भी होता था कि मुझ सही तरीके से गाइड नहीं किया जा रहा है। ऐसे में मैंने उस एजेंसी को छोड़ना चाहा, लेकिन उन्होंने मुझसे मेरे पैसे देने से मना कर दिया। उस समय मैंने अपने 20 लाख खो दिये, यह पैसे मैंने एडवर्टिजमें कैंपेन से कमाए थे।

Related Articles

Back to top button