ASAMLIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशखबर 50ट्रेंडिगदिल्ली एनसीआरदेशप्रदेशव्यापार

Lucknow कोरोना के खिलाफ जंग में उतरे यूपी के 6000 आयुष डॉक्टर

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस को मात देने के लिए हर तरह के प्रयास किए जा रहे हैं. इन्हीं तैयारियों को आगे बढ़ाते हुए अब कोरोना के खिलाफ 6000 आयुष डॉक्टरों को भी मैदान में उतार दिया है. राज्य आयुष मिशन के एमडी राजकमल यादव के मुताबिक भारत सरकार के निर्देश और गाइडलाइन्स के तहत स्वास्थ्य और आयुष मंत्रालय के विशेषज्ञों द्वारा कोरोना वायरस से निपटने के लिये यूपी के 6000 आयुर्वेद, होम्योपैथ और यूनानी डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को ऑनलाइन ट्रेनिंग प्रदान की गई है. प्रमुख सचिव आयुष की निगरानी में हुई इस ट्रेनिंग के दौरान इन डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को कोराना वायरस के इंफेक्शन से बचाव व रोकथाम के साथ कोरेंटाइन सुविधा, प्रबंधन और अन्य आवश्यक प्रोटोकाल का प्रशिक्षण दिया गया है.

राज्य आयुष मिशन के एमडी राजकमल यादव ने बताया कि इस प्रशिक्षण के बाद एक ओर जहां यूपी के इन डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को हाउस होल्ड सर्वे, डेटा कलेक्शन, सामुदायिक जागरूकता संबंधी कार्यो में लगाया जा चुका है. वहीं अब प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को भी उनके जिले में प्रशिक्षित आयुर्वेद, होम्योपैथ और यूनानी डॉक्टरों के साथ अन्य सहयोगी प्रशिक्षित स्टाफ की सूची उपलब्ध करा दी गई है. जिसके जरिये सभी जिलाधिकारी आवश्यकता के मुताबिक इन सभी डॉक्टरों और सहयोगी स्टाफ की ड्यूटी कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में लगा सकेंगे.

उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना वायरस से संक्रमण के 21 नए मामले सामने आए हैं. इससे संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 431 हो गए हैं. कुल संख्या में से 32 संक्रमित लोग ठीक हो गए हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई, जबकि चार संक्रमितों की मृत्यु हो चुकी है. वहीं, 8671 लोगों को क्वारंटाइन कर दिया गया है और 459 अन्य लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया हैं. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

Related Articles

Back to top button