Main Slideउत्तर प्रदेशप्रदेश

मोदी ने 2019 की तैयारियों का खींचा खाका, दिया चुनाव में जीत का मंत्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को डीरेका में आयोजित भाजपा पदाधिकारियों की बैठक में पार्टी के एक जुझारू कार्यकर्ता के रूप में मौजूद थे। एक शिक्षक की तरह संगठन की परिकल्पना से परिचय कराते हुए पीएम ने 2019 की तैयारियों का खाका खींचा और कार्यकर्ताओं को चुनाव में जीत का मंत्र भी दिया। मोदी ने कहा कि जनता जर्नादन सबसे बड़ी ताकत होती है।

Loading...

लोकतंत्र का काला टीका लोकतंत्र पर किसी की नजर नहीं लगने देता है। इसके लिए हर युवा को मतदाता बनाना है और उसे बूथ तक पहुंचाना हमारा लक्ष्य होना चाहिए। उन्होंने मिशन 2019 का मंत्र देते हुए टिफिन पर संवाद का मूल मंत्र दिया।

अब टिफिन पर करिए संवाद

जनता का दिल जीतने के लिए मोदी ने मंत्र दिया। कहा, चाय के साथ ही अब कार्यकर्ता टिफिन पर चर्चा करेंगे। बताया कि गुजरात में 50 लोग एक साथ रात में बैठते थे और सभी अपने टिफिन ले आते थे। भोजन के दौरान किसी एक विषय पर संवाद होता और अगले दिन सुबह फिर उस पर काम होता। यही होता है संगठन का असली काम। आपसी संवाद के बाद मथकर बाहर आई चीजों पर काम करें। मोदी ने पदाधिकारियों को टास्क दिया कि अगस्त से टिफिन पर चर्चा का कार्यक्रम शुरू हो जाना चाहिए। समाज के हर वर्ग से ‘टिफिन संवाद’ हो। झाड़ू लगाने वाले से लेकर दातुन बेचने वाले तक हमारे संगठन में शामिल होने चाहिए।

मोदी का मंत्र-पहचानें सोशल मीडिया की ताकत, एक भी मतदाता नहीं छूटे

मोदी ने कहा कि दुनिया में शायद ही कोई ऐसी सरकार वर्तमान में होगी जिसके पास आप जैसे लाखों समर्पित, अनुशासित कार्यकर्ता हों। प्रतिदिन क्षेत्र में निकलें और यह सुनिश्चित करें कि 18 वर्ष से अधिक आयु के प्रत्येक नागरिक का मतदाता परिचय पत्र बना हो। एक भी मतदाता बूथ तक पहुंचने से वंचित न रह जाए। सोशल मीडिया का भरपूर इस्तेमाल करें और आदत बनाएं कि प्रतिदिन कम से कम 100 लोगों तक सरकार की बात पहुंचाएंगे। नमो एप पर मौजूद सरकार से जुड़ी सामग्री भी लोगों को उपलब्ध कराएं।

सीधी बात- हवा-हवाई नहीं, विषय विशेषज्ञ बनिए

मोदी ने कहा कि मैं भी पीएम की कुर्सी तक पहुंचा तो कड़ा संघर्ष करके। स्पष्ट रूप से कहा कि अभी आप लोगों से सरकार की योजनाएं गिनाने को कहूंगा तो अटक जाएंगे। जनता के बीच हवा में बात करने बजाय विषय विशेषज्ञ बनिए। समूह बनाकर कार्यकर्ता आपस में सरकार के पक्ष और विपक्ष में संवाद करें और उस संवाद से निकले निहितार्थ से संगठन को अवगत कराएं ताकि सुधार किया जा सके। आपसी संवाद से ही कमी का पता चलता है। समय प्रबंधन के साथ ही बेहतर स्वास्थ्य भी बेहद जरूरी है।

लोकतंत्र का सबसे बड़ा झंडा आपके पास

यदि हर पात्र मतदाता बन जाता है तो वोट मांगने में भी अच्छा लगता है। कहा, भारत में आज दुनिया का सबसे बड़ा झंडा आपके पास है। आप इसे लहराते हुए शान से जनता के बीच जाएं क्योंकि आपकी सरकार ने ऐसा कोई काम नहीं किया जिससे शर्म आए। हमें-आपको मिलकर माहौल बनाना होगा क्योंकि स्वस्थ लोकतंत्र के लिए प्रतिस्पर्धा जरूरी है।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV