LIVE TVMain Slideदिल्ली एनसीआरदेश

किसान नेता आज गांधीजी की पुण्यतिथि पर करेंगे उपवास

कृषि कानूनों के खिलाफ गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों का विरोध प्रदर्शन आज 64वें दिन भी जारी है. किसान नेता आज गांधीजी की पुण्यतिथि पर एक दिन का उपवास रखेंगे. वहीं गाजीपुर बॉर्डर पर प्रशासन ने इंटरनेट सेवाए बंद कर दी है.

Loading...

भारतीय किसान यूनियन के समर्थक दिल्ली- मेरठ एक्सप्रेसवे पर फिर से एकत्र होने लगे और वहां किसानों की भीड़ बढ़ने लगी है. बीकेयू के आह्वान पर मेरठ, बागपत, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, मुराबादाबाद, बुलंदशहर जैसे पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों से और अधिक किसान इस आंदोलन में शामिल होने के लिये यूपी गेट पहुंचे.

कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान आज महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर सद्भावना दिवस मनाएंगे और दिन भर का उपवास रखेंगे. ये उपवास सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक रखा जाएगा.

किसान नेताओं ने केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा पर भी निशाना साधा और आरोप लगाया कि कृषि कानूनों के खिलाफ ‘शांतिपूर्ण’ आंदोलन को ‘बर्बाद’ करने का प्रयास किया जा रहा है.

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने कृषि कानूनों के विरोध में शुरू होने वाला भूख हड़ताल रद्द करने का फैसला किया है. हजारे ने शुक्रवार देर शाम महाराष्ट्र में विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस की मौजूदगी में इसकी घोषणा की.

हजारे ने फड़णवीस के साथ एक बैठक के बाद कहा, मैं लंबे समय से कई मुद्दों पर आंदोलन कर चुका हूं. शांतिपूर्वक प्रदर्शन करना कोई अपराध नहीं है. मैं तीन साल से किसानों के मुद्दे उठा रहा हूं.

भारतीय किसान यूनियन के सुप्रीमो नरेश टिकैत से यह पूछे जाने पर कि क्या वे गाजीपुर बॉर्डर पर कल जाएंगे तो उन्होंने जवाब दिया कि वह भी वहां पर जा सकते हैं.

किसान नेता अमरजीत किसान नेता – गाजीपुर बार्डर पर बैठे लोगों की तारीफ करता हूं. राकेश टिकैात ने बहुत बड़े पैमाने पर किसानों को जमा किया. उन्होंने कहा कि 30 तारीख को सदभावना दिवस मनाएंगे , सुबह 9 बजे से शाम पांच बजे तक हमारे नेता भूख हड़ताल रखेंगे.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV