देश

अटल बिहारी वाजपेयी के दिल में बसता था देश का ये राज्य

देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के दिल की गहराइयों में एक राज्य ऐसे बसता था, कि वे अकसर यहां जाया करते थे। तस्वीरों में देखिए खास लम्हें….

Loading...

अटल बिहारी वाजपेयी ने अपने जीवनकाल में हरियाणा के कई यात्राएं कीं। यहां से उनका गहरा नाता था, इसलिए वे यहां जनसभाएं करने आते थे और पार्टी कार्यकर्ताओं के यहां खाना खाते थे। दिल्ली से नारनौल जाते समय वर्ष 1990 में रेवाड़ी में कुछ समय के लिए रुके थे पूर्व प्रधानमंत्री सर्वगीय अटल बिहारी वाजपेयी।

सिरसा में 1988 में आए थे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, उस समय नगर निगम पार्षद रहे ओम बहल के घर पर अटल जी।

सन् 1985 की बात है, जब पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी सिरसा आए और महावरी रतुसरिया जनसंघ के घर पर रुके।

2 मई 2004 को भाजपा के रोहतक लोकसभा प्रत्याशी कैप्टन अभिमन्यु की जनसभा के लिए झज्जर के नेहरू कालेज में आये थे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी।

रेवाड़ी में वर्ष 1996 में राजस्थान जाते समय उनका स्वागत करते मौजूदा शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा और भाजपा के राज्य उपप्रधान अरविंद यादव।

1985 में रोहतक के प्रताप मोहल्ले में चमन लाल खनिजो के यहां आए थे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी। साथ मे सांसद कृष्णलाल, चमन लाल।

वरिष्ठ भाजपा नेता गुलशन धींगड़ा व गुलशन शर्मा, चिमन लाल खनिजो के निवास स्थान पर अटल जी के साथ।

एसवाईएल को लेकर 1998 में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से मिलता प्रदेश भाजपा नेताओं का प्रतिनिधि मंडल, जिसमें वर्तमान मुख्यमंत्री मनोहर लाल, तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष एवं मौजूदा सांसद रतनलाल कटारिया, तत्कालीन सांसद स्वर्गीय किशन चंद सांगवान, भाजपा ने वीर कुमार यादव, वर्तमान कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनकड़, मौजूदा राज्यपाल प्रोफेसर गणेशीलाल, कवंरपाल , धनखड़ जी, वीर कुमार यादव, सुधा यादव।

फतेहाबाद: 1976 में डॉक्टर नवनीत राय के घर कार्यकर्ताओं से मिलते हुए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पानीपत दौरे पर लाला इंदर सैन जी पिशावरी के साथ।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close